Jhunjhunu Update
झुंझुनूं का नं. 1 न्यूज़ नेटवर्क

बोर्ड परीक्षा के प्रश्न पत्रों को देखकर विद्यार्थी दुविधा में, एक से अधिक विकल्प सही, कौनसे को माने सही

वैकल्पिक प्रश्नों में एक से अधिक विकल्प सही, बोर्ड में भेजी जानकारी

- Advertisement -

0 1,061

झुंझुनूं। राजस्थान माध्यमिक शिक्षा बोर्ड अजमेर की ओर से चल रहीं कक्षा 10 व 12वीं की परीक्षा के विभिन्न विषयों के प्रश्न पत्रों में वैकल्पिक प्रश्नों में कई प्रश्नों के एक से अधिक विकल्प सही है तथा कई प्रश्न सही नहीं है। हिंदी, भौतिक विज्ञान, रसायन विज्ञान विषय तथा कक्षा 10 के प्रश्न पत्रों में ब्लू प्रिंट का अनुसरण नहीं हुआ है। जिससे विद्यार्थियों के द्वारा अध्याय अनुरूप की गई तैयारियां प्रभावित हुई है। भौतिक विज्ञान व रसायन विज्ञान के प्रश्न पत्रों में यह भी देखा गया कि बहुवैकल्पिक प्रश्नों में से कई प्रश्न ऐसे है। जिनमें एक से अधिक विकल्प सही है।

एसीआई उमावि (आकाश एकेडमी) के विषय अध्यापकों व विद्यार्थियों ने बताया कि जैसे कि भौतिक विज्ञान के प्रश्न पत्र में प्रश्न संख्या संख्या 1 के 16वें भाग में दो विकल्प सही है। क्योंकि प्रश्न पत्र में स्पष्ट रूप से यह नहीं पूछा गया कि अकार्बनिक अर्द्धचालक एलिमेन्टल है या कम्पाउण्ड है। साथ ही रसायन विज्ञान प्रश्न पत्र के भाग (।) में प्रश्न संख्या 1 के 9वें भाग में पैथेलिक अम्ल व आईयूपीएसी नाम पूछा गया है। जिसमें में दो विकल्प सही हैं। भाग (क) के प्रश्न 20 के भाग 3 में सही प्रारूप प्रकाशित नहीं हुआ है। वहीं प्रश्न संख्या 20 के भाग 2 में अशुद्ध विकल्प दिए गए हैं। जिसकी सूचना विद्यालय द्वारा माध्यमिक शिक्षा बोर्ड राजस्थान को भी प्रेषित कर दी गई है।

जेपी जानूं स्कूल में एक्सपर्ट टॉक का आयोजन

झुंझुनूं। पीएमश्री शहीद कर्नल जेपी जानूं राजकीय उच्च माध्यमिक विद्यालय झुंझुनूं में 21वीं सदी में अधिगम एवं सूचना कौशल विकास के अंतर्गत विशेषज्ञ द्वारा एक्सपर्ट टॉक का आयोजन किया गया। विद्यालय प्रधानाचार्य राजेंद्र कुमार दड़िया ने समस्त एक्सपर्ट का माला, शॉल तथा प्रतीक चिह्न भेंटकर सम्मान किया गया। विद्यालय उप प्रधानाचार्या विमला कटारिया ने कार्यक्रम के बारे में विस्तार से बताया। व्याख्याता अजीत चौधरी ने बताया कि एक्सपर्ट के रूप में डॉ. पंकज पारीक असिस्टेंट प्रोफेसर एनएमटी कॉलेज झुंझुनूं, दंत चिकित्सक डॉ. हिमांशु मूंड, अर्थशास्त्री सुनील कुमार तथा राष्ट्रीय शिक्षा नीति 2020 पर कार्य करने वाले राजेश कुमार झाझड़िया थे। कार्यक्रम के अंतर्गत विभिन्न प्रतियोगिताओं का आयोजन किया गया तथा विजेताओं को सम्मानित किया गया। इस अवसर पर समस्त विद्यालय स्टाफ तथा छात्र-छात्राएं उपस्थित रहे।