Jhunjhunu Update
झुंझुनूं का नं. 1 न्यूज़ नेटवर्क

शराब के नशे में स्कूल पहुंच गया शिक्षक, सूचना मिलने पर ग्रामीणों ने कर दिया कमरे में बंद

गुढ़ागौड़जी इलाके के केड पंचायत के पंजी का बास राउप्रावि का मामला

- Advertisement -

0 105

गुढ़ागौड़जी। केड ग्राम पंचायत के पंजी का बास के एक सरकारी स्कूल का अध्यापक गुरुवार को शराब के नशे में स्कूल पहुंच गया। वह देरी से पहुंचा था, इसलिए प्रधानाध्यापिका ने उसकी अनुपस्थिति लगा दी थी। इस बात को लेकर अध्यापक ने स्कूल में जमकर हंगामा मचाया। प्रधानाध्यापिका के साथ अभद्र व्यवहार किया। नशे में उलटी सीधी हरकतें करने पर बच्चों को व स्टाफ को पता चला गया। उन्होंने ग्रामीणों को सूचना दे दी। मौके पर पहुंचे ग्रामीणों ने शिक्षक को स्कूल के एक कमरे में बन्द कर दिया। बाद में सीबीईओ आत्माराम ने मौके पर पहुंचकर छुड़वाया। जानकारी के अनुसार पंजी का बास के राउप्रावि में शिक्षक रोहितास कुमार गुरुवार को शराब के नशे में स्कूल पहुंच गया। प्रधानाध्यापक निर्मला के टोकने पर अभद्रता करने लगा। बाद में नशे में बच्चों को पढ़ाने लगा।

तब बच्चों ने अभिभावकों को सूचना दे दी। ग्रामीण पहुंच और उत्पात मचा रहे शिक्षक रोहिताश को एक कक्ष में बंद कर दिया। सूचना पर पीओ नत्थूराम सिंह व सीबीईओ आत्माराम स्कूल पहुंचे। इन्होंने प्रधानाध्यापक, स्टाफ व बच्चों के बयान लिए। पीओ ने बताया कि टीचर रोहिताश कुमार 2010 से इसी स्कूल में कार्यरत है। फिलहाल बीएलओ का काम देख रहा है। समय पर स्कूल नहीं आने की कई बार शिकायत मिल चुकी है। आज भी शराब के नशे में लेट पहुंचा था। इस पर प्रधानाध्यापक निर्मला ने उसकी अनुपस्थिति लगा दी थी। इसी को लेकर शिक्षक रोहिताश ने क्लास रूम में जाकर बच्चों के सामने प्रधानाध्यापक के साथ अभद्र व्यवहार किया। ग्रामीणों का कहना है कि अध्यापक को यहां से नहीं हटाया गया तो वे स्कूल पर तालाबंदी कर देंगे।

बन्द कमरे में निकालता रहा गालियां
स्कूल के कमरे में बन्द करने के बाद भी शिक्षक रोहिताश शराब के नशे में अभद्र भाषा का प्रयोग करते हुए गालियां निकालता रहा। ग्रामीणों ने इसका वीडियो बना लिया। यह वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है। ग्रामीणों ने उसकी कार की तलाशी ली तो उसमें भी शराब की बोतल मिली है।