Jhunjhunu Update
झुंझुनूं का नं. 1 न्यूज़ नेटवर्क

हनुमान जन्मोत्सव; बंधे का बालाजी मंदिर में दो दिवसीय सतरंगी मेला आज से

चूरू रोड से लगते मुख्य द्वार के उत्तर दिशा में वाहन पार्किंग के लिए बड़ा ग्राउंड तैयार कराया

- Advertisement -

0 38

झुंझुनूं। चूरू बाइपास स्थित श्री बंधे का बालाजी मंदिर में हनुमान जन्मोत्सव पर 22 व 23 अप्रेल को दो दिवसीय सतरंगी मेला लगेगा। इसे लेकर मंदिर परिसर में तैयारियां पूर्ण कर ली गई है। मंदिर ट्रस्ट के नरेशचंद्र गाडिया ने बताया कि हनुमान जन्मोत्सव पर 22 अप्रेल को मंदिर परिसर में सांस्कृतिक कार्यक्रम होगा। इसमें मुम्बई के जागो हिन्दुस्तानी समूह के कलाकारों द्वारा धार्मिक व देशभक्ति से ओत-प्रोत गीतों पर प्रस्तुतियां दी जाएगी। वहीं 23 अप्रेल को सतरंगी मेला लगेगा। इस अवसर पर बाबा के दरबार में छप्पनभोग की झांकी सजाई जाएगी। मंदिर परिसर में फूलों की शाही सजावट की गई है। सुजानगढ़ के कलाकारों द्वारा लाइट डेकोरेशन किया गया है। रेवाड़ी के कलाकारों द्वारा नृत्य नाटिका तथा संजीव झांकियों की प्रस्तुतियां दी जाएगी। मंदिर परिसर में जोधपुरी झूले, प्रसाद, खिलौने, घरेलू सामान, सजावटी सामग्री, खाने-पीने की स्टालें आदि लगाई जाएगी। कार्यक्रम की तैयारी को लेकर विनोद टीबड़ा, संदीप टीबड़ा, शशिकांत टीबड़ा, विजय गाडिया, अतुल गाडिया, संपत्त गाडिया, अनिल केडिया, मुकेश ढेढिया, श्यामसुंदर गाडिया, प्रमोद गाडिया, मनोज व्यास, नीरज पुरोहित, सुमित गाडिया, संजय जगनानी, सुरेंद्र राणासरिया, सुधीर टीबड़ा आदि लगे हुए है।

कल निकालेंगे निशान पदयात्रा, तैयारियां पूर्ण
हनुमान जन्मोत्सव पर 23 अप्रेल को शहर धर्ममयी नजर आएगा। इस दिन श्री बंधे का बालाजी मंदिर में हजारों की तादाद में भक्त निशान लेकर पहुंचेंगे। शहर के अलग-अलग समूहों के द्वारा इस भव्य कार्यक्रम की तैयारियों को अंतिम रूप दिया गया है। मंदिर ट्रस्ट के नरेशचंद्र गाडिया ने बताया कि हनुमान जन्मोत्सव पर 23 अप्रेल को हजारों की संख्या में भक्तजन निशान पदयात्रा के साथ बाबा के दरबार पहुंचेंगे और बाबा को निशान अर्पित करेंगे। इसके लिए श्री बड़ का बालाजी दुर्गा पूजा समिति, गांधी चौक सेवा समिति, चूणा चौक विकास समिति, भारतीय कला मंदिर, गणेश मंदिर सेवा समिति, श्री सूर्य मंडल दुर्गा पूजा समिति, गणेश शिवा मंडल मुनि आश्रम, वाल्मिकी दुर्गा पूजा समिति सहित कई समूह ने तैयारियां पूर्ण कर ली है। निशान पदयात्री अलग-अलग जगह से रवाना होंगे। गांधी चौक में पहुंचकर विभिन्न समूहों से आने वाली निशान यात्राओं को संगम होगा। यहां से हाथों में निशान थामे भक्तों का कारवां बंधे का बालाजी मंदिर पहुंचेगा।

आज मुंबई के कलाकार बिखेरेंगे कला का जादू
बंधे के बालाजी मंदिर में पहले दिन 22 अप्रेल को मुंबई के जागो हिंदूस्तानी समूह के कलाकारों द्वारा देशभक्ति से ओत-प्रोत सांस्कृतिक प्रस्तुतियां दी जाएगी। इसमें मुंबई के जागो हिन्दुस्तानी समूह के कलाकारों द्वारा धार्मिक व देशभक्ति गीतों पर आधारित कार्यक्रम प्रस्तुत किया जाएगा। जागो हिस्दुस्तानी समूह के करीब 25 कलाकारों की टीम झुंझुनूं पहुंच गई है। जिन्होंने रविवार को रिहर्सल किया जाएगा। समूह के कलाकार 22 अप्रैल को रात 8 बजे होने वाले रंगारंग कार्यक्रम में राजस्थानी कला पर अपना जलवा दिखाएंगे। इसके साथ ही देशभक्ति गीतों की स्वर लहरियां बिखेरी जाएंगी।

इस बार मेले में बहुत कुछ होगा खास
श्री बंधे का बालाजी मंदिर में हनुमान जन्मोत्सव को लेकर जोर-शोर से तैयारियां की गई है। दर्शकों के उत्साह के देखते हुए मंदिर परिसर में इस बार पार्किंग की विशेष व्यवस्थाएं की गई है। चूरू रोड से लगते मुख्य द्वार के उत्तर दिशा में वाहन पार्किंग के लिए बड़ा ग्राउंड तैयार कराया गया है।  23 अप्रेल को मंदिर परिसर में सतरंगी मेला लगेगा। इस दिन निशान पदयात्रा पहुंचने से साथ ही मेले का आगाज हो जाएगा। मेला स्थल पर रेवाड़ी के कलाकारों द्वारा जीवंत झांकियां पेश की जाएगी। वहीं जोधपुर के हवाई झूले, रेवाड़ी का डेकोरेशन, सुजानगढ की लाइटिंग भक्तों का मन मोह लेगी। मंदिर के शिखरबंध को दक्षिण भारत की तर्ज पर रंगीन और आकर्षक बनाया गया है। रात्रि के समय मनमोहक नजारा बनाने के लिए शिखर पर विशेष लाइटें लगाई गई हैं। वहीं मंदिर परिसर में कलरफूल लाइटिंग वाला फाउंटेन लगाया गया है।

बंगाल के कलाकार जुटे फूल बंगले की सजावट में
हनुमान जन्मोत्सव पर फूल बंगले की सजावट की गई है। बालाजी मंदिर, शिवालय और निर्भयदास महाराज की कुटिया को करीब 4 टन फूलों से सजाया गया है। मंदिर ट्रस्ट के नरेशचंद्र गाडिया ने बताया कि वृंदावन के बांके बिहारी मंदिर की तर्ज पर इस बार भी हनुमान जन्मोत्सव पर श्री बंधे का बालाजी मंदिर में फूल बंगले की सजावट की जा रही है। फूलों के डेकोरेशन में करीब 4 टन फूल लगने का अनुमान है। इसके लिए कोलकाता और दिल्ली से विभिन्न प्रकार के फूलों का माल झुंझुनूं पहुंच गया है। बंगाल के करीब एक दर्जन कलाकार इसकी तैयारी में लगे हुए हैं। रविवार को करीब 50 लोगों की टीम फूलों को गूंथने में जुट गई। वहीं 22 अप्रेल को सुबह मंदिर परिसर में फूल बंगला तैयार हो जाएगा। गाडिया ने बताया कि नाम के अनुरूप मंदिर परिसर को फूलों से बंगले की भांति सजाया गया है। फूलों के 20 झाड़ जगह-जगह लटकाए जाएंगे, जो आकर्षण का केंद्र रहेंगे। फूल बंगले की सजावट में मुख्य रूप से खुशबूदार मोगरा का फूल लगाया जाएगा। इसके साथ गुलाब, गैंदा, गुलदाउदी, मरकेट, कन्नेर, झुगिया, फेडर, घंटी व इंग्लिश फूल जरूरत के मुताबिक काम में लिए जाएंगे।