Jhunjhunu Update
झुंझुनूं का नं. 1 न्यूज़ नेटवर्क

एसीआई संस्थान में बोर्ड टॉपर्स, नीट, आईआईटी जेईई में चयनित विद्यार्थियों को मिला 24 कैरेट सोना व सिल्वर

एसीआई संस्थान में हुआ आशीर्वाद व प्रतिभा सम्मान समारोह सुप्रवेगा 2024 का आयोजन

- Advertisement -

0 29

झुंझुनूं। जिला मुख्यालय स्थित एसीआई सीनियर सैकंडरी स्कूल का वार्षिकोत्सव सुप्रवेगा 2024 अजमेर एडीएम जेपी गौड़ की अध्यक्षता एवं खासोली धाम संतश्री नवरतनगिरी महाराज व चंचलनाथ टीले के ओमनाथ महाराज के सानिध्य में एसीआई खेल मैदान में आयोजित किया गया। कार्यक्रम में विशिष्ट अतिथि के रूप में सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता विभाग के उप निदेशक डॉ. पवन पूनियां, डीईओ सैकंडरी सुभाष ढाका, राजस्थान हाईकोर्ट के वरिष्ठ एडवोकेट संजय महला, सुनिता महला, उप रजिस्ट्रार मुरारीलाल सैनी, विनोद टेलर, इंदौरिया गुरूकुल निदेशक अमित शर्मा एवं थ्री डोट्स निदेशक मोहम्मद इब्राहिम खान, वरिष्ठ आयकर निरीक्षक अरविंद शर्मा, गोमती कॉलेज निदेशक चंदू शर्मा, संस्थान संरक्षक गोकुलचंद्र शर्मा, शिक्षाविद् विद्याधर शर्मा, प्राचार्य विनोद शर्मा, डॉ. पुरूषोत्तम शर्मा, व्यवसायी राजेश शर्मा, राजस्थान मिनी गोल्फ एसोसिएशन सचिव शहजाद सिंह, विश्व रिकॉर्डधारी आजादसिंह आदि उपस्थित थे।

कार्यक्रम में एसीआई ग्रुप ऑफ एजुकेशन समिति के द्वारा संचालित स्कूल व कोचिंग संस्थान में बोर्ड कक्षा 10 व 12 तथा नीट, आईआईटी जेईई प्रतियोगी परीक्षा 2023 में भाग लेने वाले विद्यार्थियों के लिए आशीर्वाद समारोह तथा गत वर्ष बोर्ड परीक्षाओं तथा नीट जेईई परीक्षा में श्रेष्ठ परिणाम देने वाले विद्यार्थियों का सम्मान गोल्ड व सिल्वर के साथ किया गया। संस्था निदेशक विकास शर्मा के नेतृत्व में समन्वयन अशोक जांगिड़, विजय कुमार सैनी, शुभम शर्मा, जयप्रकाश शर्मा, राकेश चौधरी एवं ऋतिका बहुगुणा ने किया। वहीं कार्यक्रम का संचालन मिनाक्षी, प्रगति, पलक, वैष्णवी ने अतिथियों का स्वागत किया। कार्यक्रम में दिनेश वर्मा, दिव्या रोहिला, शिवकुमार पालीवाल, रमेश मील, धर्मेंद्र कुमार, नरेंद्र कुमावत, सनी महरिया, नवीन जांगिड़, महेन्द्र सिंह, संदीप झाझड़िया, पूनम जांगिड़, नरेश कुमार, संतोष शर्मा, निशा शर्मा, वैशाली शर्मा आदि ने कार्यक्रम प्रबंधन किया।

मुझे गर्व मैं उस जिले का प्रतिनिधित्व करता हूं, जिसमें एसीआई जैसी स्कूलें : महला
कार्यक्रम को संबोधित करते हुए राजस्थान हाइकोर्ट के वरिष्ठ एडवोकेट संजय महला ने कहा कि मुझे गर्व है कि मैं उस जिले का प्रतिनिधत्व करता हूं। जिसमें एसीआई जैसी शिक्षण संस्थाए भारत के भविष्य को तराश रही है। आप विद्यार्थियों का सौभाग्य है कि हमें ऐसे शिल्पकार मिले हैं। जो हमें मार्गदर्शित कर रहे हैं। वहीं अजमेर एडीएम जेपी गौड़ ने कहा कि एसीआई संस्थान 24 कैरेट सोने की तरह खरा संस्थान है। यहां व्यक्तिगत ध्यान देकर विद्यार्थी का सर्वांगिण विकास किया जाता है। शेखावाटी में यहीं एक ऐसी संस्थान है। जो महिला शिक्षा को बढावा देते हुए 100 से अधिक आर्थिक रूप से कमजोर मेधावी छात्राओं को निशुल्क शिक्षा देने का कार्य करती है। जो अनुकरणीय है। उन्होंने अपने व्यक्तिगत अनुभव भी संस्थान के साथ साझा किए। साथ ही कहा कि उपलब्धि हासिल करने वाले विद्यार्थियों को खरा सोना व चांदी देकर पुरस्कृत करना अपने आप में एक अनूठा उदाहरण व मिसाल है।

वहीं खासोली धाम संत नवरतनगिरी महाराज व ओमनाथ महाराज ने अपने सम्बोधन में कहा कि बच्चों के सर्वांगिण विकास के लिए एक अच्छा माहौल होना। एसीआई की तरह आवश्यक है और संस्थान के विद्यार्थियों की सफलता की कहानी मुझे मेरे विद्यालय व गुरूजनों की याद दिलाती है। आज संस्थान में सफल विद्यार्थी कल भारत के नीति निर्धारक बनकर देश का भविष्य सवारेंगे तथा यही एक संस्थान व विद्यार्थी दोनों के जीवन की सर्वश्रेष्ठ उपलब्धि है। सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता विभाग के उप निदेशक डॉ. पवन पूनियां ने संस्थान के द्वारा बोर्ड परीक्षा व मेडिकल व इंजीनियरिंग प्रतियोगिताओं की परीक्षाओं में कम समय में ही बेहतरीन परीणाम देने व झुंझुनूं में शैक्षिक वातावरण निर्मित करने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाने पर बधाई प्रेषित करते हुए कहा कि जरूरी नहीं कि आईएएस व आरएएस ही बनें। अभिभावकों को चाहिए कि विद्यार्थियों की अभिरूचि के अनुसार विषय का चयन कर आगे बढने की प्रेरणा दें। एक तबला और शहनाई वादक भी भारत रत्न प्राप्त कर देश को गौरवान्वित कर सकता है। अपने सम्मान पर संस्था का आभार व्यक्त किया।

आयकर निरीक्षक ने दिलाई पेरेंट्स को शपथ
वहीं वरिष्ठ आयकर निरीक्षक अरविंद शर्मा ने संस्था स्टाफ के समर्पण एवं विद्याथियों के अनुशासन की प्रशंसा की और अभिभावकों को प्रतिज्ञा दिलवाई कि अपने बच्चों को मोबाइल से दूर रखें। वहीं अपने प्रत्यक्ष अनुभवों को साझा करते हुए कहा कि कहीं भी निराशा व हताशा के भाव महसूस न कर निरंतर लक्ष्य की प्रति सजग रहने की प्रेरणा दी।

मेधावियों को सोने और चांदी के मेडल दिए
संस्था निदेशक मनोज शर्मा व विकास शर्मा ने बताया कि कार्यक्रम में संस्थान के मेधावी छात्र अनन्य शर्मा पुत्र विकास शर्मा का एम्स जोधपुर में व छात्र अरूण कुमार पुत्र चंद्रप्रकाश का आईआईटी रूड़की में चयन होने पर व बोर्ड परीक्षा में राज्य स्तर पर संस्था परिवार को गौरवान्वित करने वाली छात्रा डिम्पल दाधिच पुत्री प्रमोद कुमार शर्मा एवं अमन कुमारी पुत्री विजय कुमार को अतिथि द्वारा प्रतीक चिह्न और शुद्ध गोल्ड मैडल देकर सम्मानित किया गया। वहीं सुनाक्षी पुत्र मनोज कुमार गवरमेंट मेडिकल कॉलेज डूंगरपुर, अनिरूद्ध शर्मा पुत्र राकेश कुमार एमबीएम गवरमेंट कॉलेज जोधपुर, योगेश कुमार पुत्र मनोहरलाल किरोड़ीलाल कॉलेज दिल्ली यूनिवर्सिटी, नेहा कर्णावत पुत्री दौलतसिंह गार्गी कॉलेज दिल्ली यूनिवर्सिटी, बोर्ड टॉपर रौनक कुमारी पुत्री राजेश गावड़िया, आंचल पुत्री अशोक कुमार, अदिती पूनियां पुत्री मनोज पूनियां को 100 ग्राम चांदी व प्रतीक चिह्न देकर सम्मानित किया। वहीं बोर्ड बेस्ट रेंकर लक्ष्य शर्मा पुत्र जयप्रकाश शर्मा, मिनाक्षी पुत्री भीमसिंह, चंचल पुत्री राजेश कुमार, सिद्धिमा गौड़ पुत्री परमेश्वरलाल व दिव्या पुत्री लेखराम गिल को प्रतीक चिह्न देकर सम्मानित किया। संस्था निदेशक ने बताया कि गोल्ड एवं सिल्वर के साथ साथ बोर्ड परीक्षा में 90 प्रतिशत से अधिक अंक प्राप्त करने वाले प्रतिभावान विद्यार्थियों को भी संस्था प्रतीक चिह्न एवं पुरस्कार देकर सम्मानित किया गया। बोर्ड परीक्षाओं के साथ साथ सत्र 2023-2024 में शैक्षणिक क्षेत्र में सर्वश्रेष्ठ अंक अर्जित करने वाले प्री-प्राइमरी से 11वीं फाउंडेशन तक के विद्यार्थियों को पुरस्कार से नवाजा। वहीं सह शैक्षिक गतिविधियों के तहत अलग अलग क्षेत्रों में उत्कृष्ट प्रदर्शन करने वाले राष्ट्रीय स्तर व राज्य स्तर पर उपलब्धि हासिल करने वाले विद्यार्थियों को संस्था द्वारा प्रतीक चिह्न एवं पारितोषिक पुरस्कार देकर सम्मानित किया गया। प्री-प्राइमरी एवं प्राइमरी स्तर पर अनुशासन, स्वच्छता, नियमितता एवं शनिवारीय गतिविधियों के तहत आयोज्य अनेक कार्यक्रम में बेहतर प्रदर्शन करने वाले मेधावी विद्यार्थियों को फाइव स्टार अवार्ड सम्मानित किया।

इन सांस्कृतिक प्रस्तुतियों ने छोड़ी छाप

सांस्कृतिक प्रस्तुति देतीं छात्राएं।

कार्यक्रम में भरतनाट्यम वैष्णवी ग्रुप 11वीं, मैं निकला गड्डी लेके कक्षा नर्सरी, जिन्दगी एक सफर सुहाना कक्षा एलकेजीए, बालश्रम पूर्वी एंड ग्रुप, राजस्थानी संस्कृति से सराबोर, राजस्थानी नृत्य उज्ज्वल एंड ग्रुप, स्कूल नहीं जाना नेहा एंड ग्रुप यूकेजी, समूची मानवता को अपनी जद में लेने वाले कोरोना वायरस के दौर में शासन प्रशासन, डॉक्टर्स और नर्सेज के प्रयासों को रेखांकित करने वाले कोविड एक्ट के दौरान दर्शक खड़े होकर तालियां बजाने लगे। शक्तिमान नृत्य वैष्णवी एंड ग्रुप, पंजाबी डांस गुनगुन एंड ग्रुप, मुकाबला दिशा एंड ग्रुप, फनी एक्ट बाबूड़ो लक्ष्य एण्ड ग्रुप, रंग मत डाले रे गीत रचना एंड ग्रुप, राम लखन अल्साना एंड ग्रुप, होली थीम कनिष्का एंड ग्रुप, मोबाइल थीम मनन एंड ग्रुप, साउथ इंडियन खुशी एंड ग्रुप, झांसी की रानी रचना एंड ग्रुप, वो दिन भी क्या दिन थे प्रगति एंड ग्रुप, राधे कृष्णा मुस्कान एंड ग्रुप, बच्चियों पर एसिड अटेक एक्ट जैसे जघन्य अपराध को रोकने एवं ऐसी मानसिकता से युवा पीढ़ी को बचाने पर आधारित एक्ट ने दर्शकों की भाव विभोर कर दिया। भगवान शिव की भक्ति का मार्मिक चित्रण द्वारा शिव अघोरी राधिका एंड ग्रुप द्वारा प्रस्तुत कार्यक्रमों ने उपस्थित श्रोताओं को आनंदित कर दिया।

विद्यार्थियों को 21 श्रेणियों के तहत किया पुरस्कृत
संस्था द्वारा वर्षभर की गतिविधियों एवं विद्यालय द्वारा निर्धारित मानकों के तहत विभिन्न क्षेत्रों में उत्कृष्ट प्रदर्शन करने वाले विद्यार्थियों को 21 श्रेणियों के तहत पुरस्कृत किया गया। जिसमें बेस्ट हैंडराइटिंग स्नेहा जांगिड़, बेस्ट हाइजिनिक जिन्नत बानो, बेस्ट डांसर पायल, बेस्ट इंप्रुविंग क्वालिटी खुशबू बानो, इंवाइटिंग थोट गिरिराज सिंह, राइजिंग स्टार ऑफ द ईयर अपूर्वा चौधरी व साइनिंग स्टार ऑफ द ईयर से ऐश्वर्य शर्मा को नवाजा गया। वहीं संस्थान के फाउंडेशन हैड विजय सैनी, व्याख्याता अशोक जांगिड़, राधेश्याम शर्मा, जयप्रकाश शर्मा, राकेश चौधरी दिनेश आचार्य, आशा शर्मा, प्रियंका शर्मा, सुमन चौहान, सरोज चौधरी, हेमंत जांगिड़ आदि विद्वान शिक्षकों एवं विदुषी शिक्षिकाओं को उनकी शैक्षिक एवं सहशैक्षिक उपलब्धियों के लिए संस्थान प्रतीक चिह्न एवं प्रोत्साहन राशि देकर सम्मानित किया गया।