Jhunjhunu Update
झुंझुनूं का नं. 1 न्यूज़ नेटवर्क

जालिमपुरा में शौचालय की कुई धंसने से मजदूर की माैत, पुरानी कुई के पास ही खोद रहे थे

परिजनों ने मुआवजे की मांग को लेकर किया प्रदर्शन

- Advertisement -

0 78

मलसीसर । जालिमपुरा गांव में सोमवार को शौचालय की कुई खोदते समय पहले की बनी कच्ची कुई धंसने से उसमे दबने से एक मजदूर की मौत हो गई। जानकारी के बाद मौके पर पुलिस ने जेसीबी की मदद से खुदाई करा कर काफी मशक्कत के बाद मजदूर को बाहर निकाला उसकी मृत्यु हाे चुकी थी। सूचना के बाद एसडीएम चंद्रप्रकाश वर्मा, तहसीलदार विनोद पूनिया, बीडीओ विमल कुमार जांगिड़ मौके पर पहुंच गए। मजदूर के शव का उप जिला अस्पताल में पोस्टमार्टम के बाद शव परिजनों के सुपुर्द कर दिया। टमकोर का भवानी सिंह (39) पुत्र महावीर सिंह कुई खोदने का काम करता था। सोमवार को वह जालिमपुरा में मदनलाल के घर पर कुई खोद रहा था। करीब 10 फीट की खुदाई के बाद पास ही बनी पुरानी कच्ची कुई धंसने से उसके अंदर पानी भर गया। जानकारी के बाद पम्पसेट से पानी को खाली कर पास ही जेसीबी से खुदाई कर भवानी सिंह को मुश्किल से बाहर निकाला, लेकिन तब तक बहुत देर हो चुकी थी।

भवानी सिंह (39) पुत्र महावीर सिंह

परिजन मुआवजे की मांग पर अड़े : उपजिला अस्पताल में परिजन मुआवजे की मांग पर अड़ गए। उनका कहना था कि जब तक मुआवजे की मांग नहीं मानी जाएगी तब तक पोस्टमार्टम नहीं होने देंगे। इसके बाद एसडीएम व सीओ ग्रामीण हरिसिंह धायल ने ग्रामीणों के साथ वार्ता कर भरोसा दिलाया कि जो भी सरकारी सहायता होगी दी जाएगी। इसके बाद ग्रामीण पोस्टमार्टम के लिए राजी हुए। उसके छोटे भाई समुंद्र सिंह ने थाने में मर्ग दर्ज कराई है। हादसे का शिकार हुए भवानी सिंह के पिता की मौत पहले ही हो चुकी है। भवानी िसंह मजदूरी कर परिवार पाल रहा था। उसके एक बेटा व एक बेटी है। हादसे के बाद परिवार के सामने संकट खड़ा हो गया है।

लापरवाही से हुआ हादसा : कुई में दबने से मजदूर की मौत लापरवाही का नतीजा होना सामने आया है। उसके साथ काम करने वाले मजदूर ने बताया कि काम शुरू करने से पहले मदनलाल से पूछा गया कि पुरानी कुई कहां पर बनी है तो उसने बताया कि आठ फीट दूरी पर है। जबकि जिस स्थान पर कुई खोदी जा रही थी पुरानी कुई महज दो फीट की दूरी पर ही थी। जिससे यह हादसा हो गया।