Jhunjhunu Update
झुंझुनूं का नं. 1 न्यूज़ नेटवर्क

राजीनामा का दबाव बनाने के लिए की थी फायरिंग, भरतपुर से बुलाए थे 20 से 24 साल उम्र के शूटर

गुढ़ागौड़जी में व्यापारी पर फायरिंग का मामला, पुलिस ने 160 से अधिक सीसीटीवी कैमरों को खंगाला तो पकड़ में आए बदमाश

- Advertisement -

0 803

झुंझुनूं । जिले के गुढागौड़जी कस्बे में व्यापारी पर फायरिंग करने के मुय आरोपी सहित चार आरोपियों को पुलिस ने गिरतार किया है। पुलिस ने इनसे हथियार व जिंदा कारतूस भी बरामद किए हैं। आरोपियों ने लूट के पुराने मामले में राजीनामा का दबाव बनाने के लिए 7 मई को दोपहर बाद करीब तीन बजे दुकान पर फायरिंग की थी।

एसपी राजर्षि राज ने बताया कि गिरतार आरोपी संजय भार्गव उर्फ संजू निवासी गोवटी खाटूश्यामजी के खिलाफ 12 मामले दर्ज हैं। वह हत्या के मामले में भी वांछित था। उस पर दस हजार का इनाम था। दूसरे आरोपी मोहित शर्मा के खिलाफ सीकर के उद्योग नगर में आर्स एक्ट का मामला दर्ज है। वह लूट में वांछित है। इस मामले में विजय भार्गव ऊर्फ बिजु, रानोली को भी डिटेन किया था, लेकिन उसकी भूमिका नहीं मिलने पर उसे सीकर पुलिस को सौंप दिया। उस पर भी दस हजार का इनाम है। वहीं रवि व सोनू का पुराना अपराधिक रेकॉर्ड नहीं मिला। इस मामले में पांच आरोपी पहले गिरतार किए जा चुके। अब तक कुल नौ आरोपी गिरतार हो चुके। अब इस मामले में एक आरोपी गिरत से बाहर से उसे भी जल्द ही गिरतार कर लेंगे। आरोपियों पर बीस हजार रुपए के इनाम की घोषणा की गई थी।

पुलिस टीम में गुढ़ागौड़जी थानाप्रभारी राममनोहर ठोलिया, एसआई हेमराज, सिपाही सरदारमल, हरेन्द्र, सुनील, साइबर सेल के दिनेश कुमार, जितेन्द्र थाकन व अन्य शामिल थे। एसपी ने बताया कि आरोपियों को पकड़ने के लिए 160 से अधिक सीसीटीवी कैमरों का रेकॉर्ड खंगाला गया। तकनीक का सहयोग लिया गया।

इसलिए की थी फायरिंग, खुला राज

एसपी ने बताया कि वर्ष 2022 में गुढ़ागौड़जी निवासी जितेन्द्र अग्रवाल के बड़े भाई के साथ लूट हुई थी। इसका मामला गुढ़ागौड़जी थाने में दर्ज करवाया गया है। आरोपी चाहते थे कि जितेन्द्र व उसका भाई राजेन्द्र लूट के पुराने मामले में राजीनामा कर ले। मामला वापस ले ले। राजीनामा का दबाव बनाने के लिए फायरिंग की गई थी। जब दोनों भाई अपनी किराने की दुकान पर बैठे थे तब सात मई को आरोपियों ने दोपहर बाद करीब तीन बजे फायरिंग की। हालांकि गोली से दोनों बच गए थे। आरोपी एक पर्ची भी पकड़ाकर गए थे, इसमें पचास लाख रुपए की रंगदारी भी मांगी गई थी। एसपी ने बताया कि फायरिंग का फिलहाल कारण राजीनामे का दबाव बनाने का सामने आया है।

इनको किया गिरतार

– रवि कुमार पुत्र गोविंद सिंह जाट, उम्र 22 साल, गांव पाली, थाना हलैना जिला भरतपुर

-देवेन्द्र सिंह उर्फ सोनू गुर्जर पुत्र भरतीराम गुर्जर उम्र 20 साल, निवासी नसवारा, थाना हलैना, भरतपुर

– मोहित शर्मा उर्फ जयप्रकाश शर्मा उम्र 24 साल, निवासी बनखंडी मंदिर के पास हलैना, भरतपुर

-संजय भार्गव उर्फ संजू पुत्र सुभाष चन्द भार्गव, उम्र 24 साल निवासी गोवटी खाटुश्यामजी सीकर