Jhunjhunu Update
झुंझुनूं का नं. 1 न्यूज़ नेटवर्क

भाजपा की प्रदेश कार्यकारिणी में जिले के दो नेताओं को मिली बड़ी जिम्मेदारी, अहलावत प्रदेश महामंत्री व दाधीच प्रदेश उपाध्यक्ष बनाए गए

दोनों ही पदाधिकारी पहले भी रह चुके हैं प्रदेश कार्यकारिणी में

- Advertisement -

0 15
झुंझुनूं। भाजपा प्रदेश अध्यक्ष सीपी जोशी ने प्रदेश कार्यकारिणी का पुर्नगठन करते हुए अपनी नई टीम का गठन किया है। इसमें एक बार फिर झुंझुनूं जिले के दो दिग्गज नेताओं को जगह दी गई है। इनमें झुंझुनूं की पूर्व सांसद एवं निवर्तमान प्रदेश उपाध्यक्ष संतोष अहलावत को प्रदेश महामंत्री तथा 10 सालों से प्रदेश टीम में जिम्मेदारी निभा रहे बगड़ के मुकेश दाधीच को फिर से प्रदेश उपाध्यक्ष बनाया गया है।

दीयाकुमारी की जगह लेंगी संतोष अहलावत

झुंझुनूं की पूर्व सांसद एवं निवर्तमान कार्यकारिणी में प्रदेश उपाध्यक्ष की जिम्मेदारी संभाल रही संतोष अहलावत को एक बार फिर ना केवल जगह दी गई है। बल्कि संतोष अहलावत का प्रमोशन करते हुए उन्हें प्रदेश महामंत्री बनाया गया है। पहले दिया कुमारी कार्यकारिणी में प्रदेश महामंत्री के दायित्व को निभा रही थी। लेकिन उनके उप मुख्यमंत्री बनने के बाद अब उनकी जगह संतोष अहलावत को जगह दी गई है। संतोष अहलावत, चौथी बार प्रदेश कार्यकारिणी में स्थान ले पाई है। इससे पहले वह तीन बार प्रदेश उपाध्यक्ष रह चुकी है। अहलावत के संगठनात्मक कार्यों और क्षमताओं को देखते हुए उन्हें प्रदेश महामंत्री बनाया गया है। अहलावत की घोषणा के बाद झुंझुनूं में खुशी की लहर है। भाजपा नेता और कार्यकर्ता सुबह से अहलावत को बधाई दे रहे है। इस मौके पर अहलावत ने बताया कि उन्हें जो जिम्मेदारी दी गई है। वे पूरी ईमानदारी के साथ निभाएंगी। फिलहाल हमारे सामने 25 की 25 लोकसभा सीटें जीतकर तीसरी बार केंद्र में नरेंद्र मोदी को प्रधानमंत्री बनाना है। राजस्थान ने यह संकल्प लिया है कि ना केवल हम 25 सीटें जीतेंगे। बल्कि हर सीट का जीत का अंतर पांच लाख से ज्यादा होगा। उन्होंने कहा कि विकास की गारंटी, हर वर्ग को साथ लेकर चलने की गारंटी सिर्फ नरेंद्र मोदी ही दे सकते है।
मुकेश दाधीच को फिर मिली प्रदेश उपाध्यक्ष की जिम्मेदारी

मुकेश दाधीच, प्रदेश उपाध्यक्ष

भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष सीपी जोशी द्वारा अपनी कार्यकारिणी का पुर्नगठन कर नई टीम की घोषणा की है। जिसमें एक बार फिर झुंझुनूं की बगड़ नगरपालिका के पूर्व उपाध्यक्ष मुकेश दाधीच को ना केवल जगह मिली है। बल्कि वे प्रदेश उपाध्यक्ष के पद पर बरकरार रखे गए है। आपको बता दें कि मुकेश दाधीच पिछले करीब एक दशक, यानि कि 10 सालों से प्रदेश की टीम में महत्वपूर्ण जिम्मेदारी संभाले हुए है। उन्होंने सबसे पहले 2014 में अशोक परनामी की टीम में प्रदेश मंत्री की जिम्मेदारी दी गई थी। इसके बाद वे मदनलाल सैनी के साथ भी बतौर प्रदेश मंत्री जिम्मेदारी संभाले हुए थे। इसके बाद उन्हें सतीश पूनियां ने अपनी टीम में प्रदेश उपाध्यक्ष के तौर पर शामिल किया गया था। उनके संगठनात्मक कार्यों और क्षमता को देखते हुए उन्हें वर्तमान प्रदेश अध्यक्ष सीपी जोशी ने भी प्रदेश उपाध्यक्ष का दायित्व दिया। अब किए गए पुर्नगठन में भी सीपी जोशी ने मुकेश दाधीच को अपने साथ रखा है और फिर से प्रदेश उपाध्यक्ष की जिम्मेदारी दी है। आपको बता दें कि मुकेश दाधीच एक बेहतर, सुलझे हुए और कर्मठ संगठनकर्ता के रूप में पहचान रखते है। फिलहाल वे जयपुर शहर से भी लोकसभा चुनावों के लिए टिकट मांग रहे है। इस टिकट का इंतजार मुकेश दाधीच से कहीं ज्यादा जयपुर शहर के कार्यकर्ताओं और खासकर झुंझुनूं जिले को है। माना जा रहा है कि मुकेश दाधीच इस नई जिम्मेदारी की टिकट दौड़ में सबसे आगे है।